Miss Universe 2021 Harnaaz Kaur Sandhu गेहूं की रोटी क्यों नहीं खाती थी?

Miss Universe 2021- Harnaaz Kaur Sandhu

Miss Universe बनना आसान नहीं होता और ये खिताब जब भारत के नाम हो जाए तो ये इतिहास रच देता है. भारत को ये सम्मान सबसे पहले दिलाने वाली Miss Universe 1994 सुष्मिता सेन के नाम है और उनके बाद लारा दत्ता ने साल 2000 में Miss Universe का क्राउन पहना था. साल 2000 वही साल है जब भारत में Miss Universe 2021 ने जन्म लिया था. जी हां Harnaaz Kaur Sandhu का जन्म साल 2000 मार्च में पंजाब में हुआ. हालांकि उनके परिवार में कोई भी ग्लैमर्स वर्ल्ड से नहीं था लेकिन 17 साल की उम्र से ही हरनाज़ ने प्रोफेशनल मॉडलिंग में अपना करियर बना लिया था.

मिस यूनिवर्स 2021 Harnaaz Kaur Sandhu नहीं खाती गेहूं की रोटी

Miss Universe 2021 Harnaaz Kaur Sandhu गेहूं की रोटी क्यों नहीं खाती थी?

एक मॉडल को अपने पहने ओढ़ने से लेकर खाने पीने तक हर बात का खास ख्याल रखना होता है. मिस यूनिवर्स का खिताब जीतने के बाद जब Harnaaz Kaur Sandhu ने मीडिया से बात की तो उन्होंने बताया कि उन्हें याद ही नहीं उन्होंने गेहूं की रोटी कब खायी थी. जी हां आप और हम जो गेहूं के आटे से बनीं रोटियां खाते हैं उसे मिस यूनिवर्स बनने के लिए Harnaaz Kaur Sandhu ने छोड़ दिया था. एक पंजाबन के लिए खाना पीना कंट्रोल करना कितना मुश्किल होता है ये तो हर पंजाबी आसानी से सोच सकता है. घर में गर्मागर्म मक्खन और घी के परांठे जब परिवार के सब लोगों के लिए बन रहे हों ऐसे में सिर्फ सलाद और फ्रूट्स खाना कभी-कभी सजा से कम नहीं लगता. लेकिन जब लक्ष्य भारत को मिस यूनिवर्स Miss Universe का टाइटल दिलाने का हो तो फिर कुछ मुश्किल नहीं.

क्यों नहीं खाती थी गेहूं के आटे से बनीं रोटी?

Miss Universe 2021 Harnaaz Kaur Sandhu गेहूं की रोटी क्यों नहीं खाती थी?

गेहूं की रोटी में कैलोरी व कार्बोहाइड्रेट की मात्रा बहुत होती है ऐसे में लोग वेट लॉस डाइट में रोटी खाना बंद कर देते हैं. इसके अलावा गेहूं में सबसे ज्यादा ग्लूटन होता है जिसे खाने से वजन बढ़ता है. Weight loss या वजन को कंट्रोल में रखना एक मॉडल के लिए कितना जरूरी होता है ये तो सभी समझ सकते हैं. तो कैलरी कंट्रोल करने के लिए Harnaaz Kaur Sandhu भी अपने स्ट्रिक्ट डायट चार्ट को फॉलो करती थी और साल 2017 से पहले से ही उन्होंने अपने खाने से गेहूं की रोटी को कम करना और फिर धीरे धीरे बंद करना शुरु कर दिया था. बिना त्याग के कोई भी कामयाबी हासिल नहीं होती.दृढ निश्चय के साथ जब आप कोई संकल्प लेते हैं तो उसे पूरा करने के लिए कहते हैं भगवान भी आपकी मदद करता है. भगवान के आशीर्वाद से ही आज भारत ने ये दिन देखा है.

Miss Universe 2021 Harnaaz Kaur Sandhu जैसे ही भारत आएंगी वो सबसे पहले अपने परिवार के साथ अमृतसर के गोल्डन टेम्पल में माथा टेकने जाएंगी. हालांकि मिस यूनिवर्स को प्रोटोकॉल्स को फोलो करते हुए अभी कुछ समय तक हरनाज़ को न्यूयॉर्क में ही रहना होगा जहां से वो कुछ ग्लोबल इवेंट अटेंड करेंगी और उसके बाद अपने देश वापस आएंगी. Harnaaz Kaur Sandhu के भारत लौटने का इंतज़ार तो उनके परिवार और दोस्तों के साथ साथ हर हिंदोस्तानी को है

Leave a Reply

Your email address will not be published.