• Thu. Oct 6th, 2022

शीर्ष -10 कंपनियों में से तीन को एमकैप में 1.22 लाख करोड़ रुपये का नुकसान; आरआईएल टॉप ड्रैग

ByNEWS OR KAMI

Sep 4, 2022
शीर्ष -10 कंपनियों में से तीन को एमकैप में 1.22 लाख करोड़ रुपये का नुकसान; आरआईएल टॉप ड्रैग

नई दिल्ली: 10 सबसे मूल्यवान घरेलू फर्मों में से तीन का संयुक्त बाजार मूल्यांकन पिछले सप्ताह 1,22,852.25 करोड़ रुपये गिर गया। रिलायंस इंडस्ट्रीज सबसे बड़े पिछड़ापन के रूप में उभर रहा है।
आईटी प्रमुख टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) और इंफोसिस अन्य दो ब्लूचिप्स थे जिन्हें उनके मूल्यांकन से क्षरण का सामना करना पड़ा।
इसके विपरीत, एचडीएफसी बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, आईसीआईसीआई बैंक, भारतीय स्टेट बैंक, एचडीएफसी, बजाज फाइनेंस और अदानी ट्रांसमिशन लाभ में रहे। उनका संयुक्त लाभ 62,221.63 करोड़ रुपये था।
छुट्टी वाले सप्ताह के दौरान बीएसई का बेंचमार्क सेंसेक्स 30.54 अंक या 0.05 फीसदी लुढ़क गया।
रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार मूल्यांकन 60,176.75 करोड़ रुपये गिरकर 17,11,468.58 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।
टीसीएस का बाजार पूंजीकरण (एमकैप) 33,663.28 करोड़ रुपये घटकर 11,45,155.01 करोड़ रुपये और इंफोसिस का बाजार पूंजीकरण 29,012.22 करोड़ रुपये घटकर 6,11,339.35 करोड़ रुपये रह गया।
गेनर्स पैक से, एचडीएफसी बैंक ने 12,653.69 करोड़ रुपये जोड़े, जिससे इसका मूल्यांकन 8,26,605.74 करोड़ रुपये हो गया।
शीर्ष -10 सबसे मूल्यवान फर्मों की प्रतिष्ठित सूची में नवीनतम प्रवेशी अदानी ट्रांसमिशन का मूल्यांकन 12,494.32 करोड़ रुपये बढ़कर 4,30,842.32 करोड़ रुपये हो गया।
अदानी ट्रांसमिशन ने मंगलवार (30 अगस्त) को टॉप-10 की सूची में प्रवेश किया।
भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) का एमकैप 11,289.64 करोड़ रुपये बढ़कर 4,78,760.80 करोड़ रुपये और एचडीएफसी का 9,408.48 करोड़ रुपये बढ़कर 4,44,052.84 करोड़ रुपये हो गया।
बजाज फाइनेंस का मूल्यांकन 7,740.41 करोड़ रुपये बढ़कर 4,35,346 करोड़ रुपये और हिंदुस्तान यूनिलीवर का मूल्यांकन 7,612.68 करोड़ रुपये बढ़कर 6,11,692.59 करोड़ रुपये हो गया।
आईसीआईसीआई बैंक ने 1,022.41 करोड़ रुपये जोड़े, जिससे इसका मूल्यांकन 6,07,352.52 करोड़ रुपये हो गया।
शीर्ष -10 फर्मों की रैंकिंग में, रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपना पहला स्थान बरकरार रखा, इसके बाद टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, इंफोसिस, आईसीआईसीआई बैंक, एसबीआई, एचडीएफसी, बजाज फाइनेंस और अदानी ट्रांसमिशन का स्थान रहा।




Source link