महाराष्ट्र मे चल रहे राजनीतिक हंगामे को देखते हुए पुलिस ने लागू की धारा 144


महाराष्ट्र पुलिस ने चेतावनी देते हुए मुंबई मे ऐलान किया की अगर किसी भी व्यक्ति के पास से चाकू, तलवार, बंदूक, लाठी, पथतर या फिर किसी भी तरह कोई भी हत्यार मिला तो उस पर सख्त से सख्त कारवाई की जाएगी साथ ही, उसे जेल मे भी डाल दिया जाएगा।


इन दिनों महाराष्ट्र मे चल रहे राजनीतिक बवालों को लेकर महाराष्ट्र पुलिस भी चौकना है राजनीतिक हँगामों मे प्रशासन ने मुंबई के सभी थानों मे एक अलर्ट जारी किया है की महाराष्ट्र सरकार शिवसेना और बाकी पार्टियों के बीच विवाद के चलते 30 जून तक मुंबई के किसी भी इलाके मे भीड़ भड़का करके नारेबाजी और जुलूस पर रोक लगाने का ऑर्डर दिया है। जिसके लिए पुलिस मुंबई के चपे चपे पर नजर रख रही है ताकि कही भी नारेबाजी और जुलूस का सिलसला शुरू न हो। इसी के साथ, एक और बात भी समाने आई है की राजनीतिक से जुड़े किसी भी प्रकार के कोई भी पोस्टर लगाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। बतादे महाराष्ट्र के हर इलाके मे पुलिस ने ये घोषणा भी की है की किसी भी व्यक्ति के पास डंडा, लाठी और किसी भी तरह का हत्यार रखने की अनुमति नहीं है।
किसी भी जगह एक साथ 5 से ज्यादा लोग इखट्टे नहीं होने चाहिए
पुलिस के आदेश के अनुसार अगर किसी भी व्यक्ति के पास किसी भी तरह का कोई हत्यार बरामद हुआ यहा तक की लाठी, तक भी तो उस व्यक्ति के खिलाफ सख्त कारवाई होगी। साथ ही, उसको सख्त से सख्त सजा भी दी जाएगी, साथ ही दूसरा आदेश ये है की किसी भी जगह एक साथ पाँच से ज्यादा लोगों की मौजूदगी नहीं होने चाहिए और किसी भी प्रकार का जुलूस और नारेबाजी भी नहीं होना चाहिए। बतादे पुलिस ने साफ-साफ शब्दों मे ये चेतावनी दी है की अगर किसी भी जगह एक साथ पाँच से ज्यादा लोग दिखे तो उस पूरे इलाके मे धारा 144 को लागू कर दिया जाएगा।
महाराष्ट्र मे इतना हड़कंप क्यों मचा है?
दरअसल पिछले कुछ दिनों से महाराष्ट्र सरकार की पार्टियों मे आपस मे टकराव चल रहा है जिसके कारण बीते कुछ दिनों मे महाराष्ट्र मे कई जगहों पर थोड़ी बहुत हिंसा भी हुई थी। हालांकि महाराष्ट्र पुलिस ने काफी मशकत करके हिंसा को आगे बढ़ने न दिया। आपको बतादे की महाराष्ट्र के कई थानों को एकनाथ शिंदे का गढ़ माना जाता है। और यही एक वजह है जिसके कारण एकनाथ शिंदे और शिवसेना के समर्थकों के बीच विवाद छिड़ गया। जिसके बाद प्रशासन द्वारा बैठक का निर्णय लिया। बतादे की आज शिवसेना ने अपने सभी राष्ट्रीय कार्यकर्ताओ की बैठक बुलाई है। जबकि दूसरी तरफ आदित्य ठाकरे ने भी अपने पार्टी के नेताओ को इस मामले की चर्चा करने बुलाया है। वही दूसरी तरफ महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेन्द्र फंडणवीस और केंद्रीय मंत्री रामदास अठावाले के भी बीच आज महाराष्ट्र की मौजूदा सियासी विवादों पर चर्चा की जाएगी।
Desk News – Aditya Kaushik

Leave a Reply

Your email address will not be published.