मध्य प्रदेश के एक जंगल से मिली नकली सीमेंट की फैक्ट्री, फैक्ट्री की मशीने और ट्रक पुलिस ने किए जब्त


मध्य प्रदेश मे स्थित रीवा मे नकली सीमेंट बनाने वाली फैक्ट्री का प्रशासन ने भंडाफोड़ किया। बतादे बहुत लंबे समय से मध्य प्रदेश के रीवा के जंगल मे नकली सीमेंट बनाने का धंधा चल रह था। जिसमे क्रेसर से निकलने वाले डस्ट और राखड़ को बोरियों मे भरकर सीमेंट का नाम देकर बेचा जा रहा था। दरअसल इस फैक्ट्री की शिखयात पुलिस को काफी दिनों से कई लोग कर रहे थे और लोगों की शिखयात पर पुलिस ने उस जंगल मे जाकर छापा मारा तो सच मे उस फैक्ट्री मे सीमेंट के नाम पर डस्ट और राखड़ को बोरियों मे भरकर बेचने के लिए जमा किया जा रहा था जिसके बाद पुलिस ने उस फैक्ट्री के 3 ट्रक, 2 कैप्सूल, जीसीएस मशीन और मिक्सर के साथ भारी मात्रा मे मिश्रित नकली सीमेंट अपने कब्जे मे लिया।
दरअसल काफी टाइम से रीवा मुख्यालय से 65 किलोमीटर दूर एक जंगल मे नकली सीमेंट बनाने का कारोबार चलाया जा रहा था। जिसकी कम्प्लैन्ट कई दिनों से प्रसाशन और पुलिस के पास आ रही थी जिसके बाद लोगों की कम्प्लैन्ट को देखते हुए पुलिस की एक टीम ने उस जंगल मे जाकर छापेमारी की और उस फैक्ट्री मे काम कर रहे लोगों को रंगेहाथ पकड़ा आपको बतादे की नकली सीमेंट बनाने वाली फैक्ट्री मे सैकड़ों मजदूर काम कर रहे थे। साथ ही, आपको बतादे की नकली सीमेंट बनाने के लिए फ्लाई और राखड़ का इस्तेमाल किया जा रहा था। इतना ही नहीं कैप्सूल के जरीए ब्रांडेड सीमेंट के बैग मे राखड़ और डस्ट को भरकर पैक किया जाता था। जिसके कारण ये बता पाना काफी मुश्किल था की ये असली है या नकली वो तो पुलिस ने मौके पर पहुच के देखा तब जाके पुख्ता सबूत मिला की ये लोग ऐसे नकली सीमेंट को बनाते है। उसके बाद उधर काम कर रहे 100 मजदूरों को गिरफतार कर लिया।
Aditya Kaushik

Leave a Reply

Your email address will not be published.