• Mon. Sep 26th, 2022

बीजेपी की निष्कासित सीमा पत्रा हुई गिरफ्तार, अपनी नौकरानी को बंधक बनाकर टॉर्चर करने के आरोप मे

बीजेपी की निष्कासित सीमा पत्रा हुई गिरफ्तार, अपनी नौकरानी को बंधक बनाकर टॉर्चर करने के आरोप मे

झारखंड के रिटायर्ड आईएएस बीबी पत्रा की बीजेपी से निकली गयी सीमा पत्रा हुई गिरफ्तार, अपनी नौकरानी को बंधक बनाकर टॉर्चर करने के आरोप के चलते हुई गिरफ्तार। सीमा पत्रा पर आरोप है कि वह पिछले 8 सालों से अपने घर मे काम कर रही दिव्यांग नौकरानी के साथ मारपीट और टॉर्चर करती रही साथ ही, उसको बंधक भी बना रखा था।

अंगोड़ा पुलिस की टीम ने रांची से फरार होने वाली सीमा पत्रा को आज सुबह 4 बजे गिरफ्तार कर लिया। सीमा के खिलाफ मामला दर्ज होते ही पुलिस सीमा की तलाश में जुट गई थी साथ ही, मंगलवार को सीमा के घर काम कर ही दिव्यांग नौकरानी का बयान कोर्ट मे दर्ज करवाया गया।

दरअसल सीमा पत्रा को जैसे ही पता चला कि वह जल्द गिरफ्तार हो सकती है तो सीमा गिरफ्तारी के डर से फरार हो गयी जबकिं रांची पुलिस ने सीमा की तलाश में लग गयी यहां तक कि सीमा के कई ठिकानों पर भी रेड मारी जबकिं इससे पहले मंगलवार को मामला सामने आते ही बीजेपी सरकार ने सीमा पत्रा को पार्टी से निष्कासित कर दिया।

सीमा पत्रा के बेटे ने ही बताई अपनी माँ की हरकत

सीमा पत्रा के बेटे ने बताया कि सीमा पत्रा ने अपने रांची वाले घर मे अपने घर मे काम रही दिव्यांग लड़कीं को बंधक बना रखा और वह उससे मारपीट करती है। ये बात सामने आते ही पुलिस ने जांच की तो सुनीता नाम की लड़कीं जो कि सीमा के घर काम करती थी उसके शरीर पर काफी ज्यादा घाव के निशान थे और कई निशान तो ऐसे थे जिन से साफ-साफ पता चल रहा था कि सुनीता को गरम तावे से जलाया जा चुका है। इस मामले में उस लड़की सुनीता को सीमा पत्रा के बेटे आयुष्मान ने बचाया है क्योंकि उसने अपने दोस्त विवेक को बताया कि मेरी माँ अपने घर में काम करी लड़कीं के साथ बहुत ज्यादा दुर्व्यवहार करती है उसके बाद दोस्त विवेक ने पुलिस की मदद से सुनीता को सीमा पत्रा के कि चंगुल से छुड़वाया।बता दें विवेक सचिवालय में कार्यकरत है।

सुनीता नाम की लड़कीं का वीडियो वायरल हुआ था। जिसको सीमा पत्रा ने काफी लंबे आरसे से बंधक बना रखा था और नामालूम कितने दर्द दिए होंगे सीमा पत्रा पर लगा आरोप साबित होते ही बीजेपी ने उनको पार्टी से निष्कासित कर दिया जिसके बाद सीमा पत्रा की गिरफ्तारी की मांग होने लगी।

आपको बता दें पुलिस ने सीमा पत्रा को SC/ST एक्ट और आईपीसी के तहत सीमा पर मामला दर्ज किया गया।

Desk News – Aditya Kaushik