• Mon. Sep 26th, 2022

इंदौर से गिरफ्तार हुआ फर्जी जज, गाड़ी में लगी लालबत्ती दिखाकर ठगे 2.90 लाख रुपये

इंदौर से गिरफ्तार हुआ फर्जी जज, गाड़ी में लगी लालबत्ती दिखाकर ठगे 2.90 लाख रुपये

इंदौर क्राइम ब्रांच ने एक बेहद ही शातिर ठग को पकड़ लिया है आपको बता दें इस शातिर ठग ने अपने आप को जज बताकर कोर्ट में चल रहे मामलों को निपटने के नाम पर ठग करता रहा आखिरकर पुलिस की गिरफ्त में आ ही गया इस शातिर ठग ने अब तक 2.90 लाख रुपये की ठग कर चुका है। फिलहाल पुलिस इस शातिर ठग से पूछताछ कर रही है शुरुआती पूछताछ में इसने पुलिस को देवास कोर्ट का जज बताया था।

इंदौर क्राइम ब्रांच ने एक ठग जो कि अपने आप को जज बताता था उसको गिरफ्तार कर लिया दरअसल ये अपने आप को जज बताने वाले आरोपी ने एक फैमेली मेटर के मामले को निपटने के लिए एके शख्स से करीब 2.90 लाख रुपये वसूल चुका है। आपको बता दें पुलिस ने इस ठगी के पास से एक गाड़ी भी बरामद की थी जिसपे लालबत्ती लगी हुई थी। पुलिस का कहना है कि इस शख्स से पूछताछ में और भी कई लोगो के साथ ठगी के मामले में सामने आ सकते है।

क्या है पूरा मामला ?

दरअसल एक शख्स इंदौर की क्राइम ब्रांच के पास अपने साथ हुई धोखाधड़ी का मामला लेके आया था शख्स ने बताया कि उसके साथ एक राजीव लोहाटी नाम के व्यक्ति ने धोखा किया है उसने बताया कि राजीव लोहाटी ने अपने आप को जज बनाकर और मेरे फैमिली मेटर के केस को निपटाने के नाम पर अब तक मुझसे 2 लाख 90 हजार रुपये की ठगी कर चुका है। शख्स की शिकायत पर पुलिस ने मामले की जांच की तो तब पता चला कि सुदामा नगर में रहने वाला राजीव लाहोटी ने अपनी गाड़ी पर लालबत्ती लगाई हुई है साथ ही, उसने अपनी गाड़ी पर न्यायधीश भी लिखवा लिया है।

राजीव लोहाटी ने अपने आप को देवास कोर्ट का जज बताया और उसे कहा कि अगर देवास कोर्ट में किसी का केस हो तो मुझे बताना मै उस मामले को निपटा दूंगा ये बात सुनते ही फरियादी ने अपने एक जान-पहचान वाले के केस के लिए बात की।

जिसके बाद राजीव लोहाटी ने केस को खत्म करवाने के लिए उस शख्स से 2 लाख 90 हजार रुपये ले लिए और फिर जब केस खत्म होना तो दूर केस में कुछ नही हुआ तब मामले की शिकायत पुलिस से की गयी।

उसके बाद इंदौर क्राइम ब्रांच मामले की तफ्तीश करते हुए राजीव लाहोटी को गिरफ्तार कर लिया और उसके ऊपर धोखाधड़ी और अपनी गाड़ी में लालबत्ती वाली गफी को जब्त कर न्यायधीश लिखवाने के जुर्म में धारा 409, 420 और 419 के तहत गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है।

Desk News – Aditya Kaushik